Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/kscol/public_html/astro/classes/settings.php on line 17






मेष राशि (aries) गोचर फल 2015 (80% शुभ)
वर्षारम्भ से ही राशि स्वामी मंगल की स्वग्रही दृष्टि होने से पराक्रम पुरुषार्थ में बढ़ोत्तरी रहेगी । नयी योजनाओं पर अमल होना शुरू होगा ।
शुभ मंगल कार्य संपन्न होंगे ।जुलाई और सितम्बर में नीचस्थ मंगल पर गुरु की शुभ दृष्टि होने से मिश्रित प्रभाव रहेंगे कुल मिलाकर मेष राशि वालों के लिए साल 2015 उन्नति कारक होगा ।किन्तु साथ ही शनि ढैय्या के कारण जून जुलाई अगस्त के महीने कुछ विवाद क्लेश तनाव और व्यर्थ के खर्चे होंगे सितम्बर अक्टूबर नवम्बर दिसम्बर धन लाभ स्थाई सम्पति लाभ एवं रुके कार्यों के बनने के योग हैं ।क्रोध आवेश पर नियंत्रण रखें ।
उपाय - शनिवार, मंगलवारों में बजरंग बाण के 11 पाठ करें और प्रति मंगल वार को श्री हनुमान मंदिर में लाल पुष्प,हनुमानी सिन्दूर, मिठाई चढ़ाएं ।
 
मिथुन राशि (Gemini) 2015 गोचर फल (80% शुभ)
साल के शुरुआत में बुध की अष्टम स्थिति के कारण मिथुन राशि वालों को शारीरिक मानसिक परेशानी से गुजरना पड़ा होगा ।
अप्रैल में कुछ लाभ के योग थे ।
किन्तु पुनः 27 अप्रैल से 4 जुलाई के बीच धन संबंधी समस्याओं से दो चार होना पड़ेगा ।कार्यों में व्यवधान भी आएंगे ।परन्तु जुलाई के अंत से बुध स्वराशि में आने पर पुनः सुधार होगा सूर्य मंगल का भी संयोग है नए संसाधनों पर व्यय हो सकता है ।क्रोध आवेश पर संयम रखें ।धैर्य से काम लें ।अगस्त सितम्बर अक्टूबर सामन्यतः शुभ कारक रहेंगे नवम्बर में जमीन जायदाद सम्बन्धी परेशानी हो सकती है अतः सूर्य मंगल की वस्तुएं दान करें ।दिसम्बर शुभ कारक रहेगा ।युवा प्रेम प्रसंगों में सावधानी रखें व्यर्थ के खर्च होंगे ।किसी का सहयोग प्राप्त होगा ।
उपाय- सूर्य सामग्री दान करें एवं सूर्यार्घ्य दें ,आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ करें । ॐ शुभ कामना ।
 
वृष राशि (taurus)2015 गोचर फल (80%शुभ)
-------------------------------------------------------------------
साल भर शनि की सप्तम मित्र दृष्टि होने से वृष राशि वालों के लिए अत्यंत शुभ कारी रहेगा ।बिगड़े कार्य बनेंगे शुक्र के साथ मंगल योग है अतः स्त्रियों की और से सावधानी रखें गौ सेवा करें ।
मई जून जुलाई में मकान वाहन मनोरंजन आदि कार्यों पर खर्च होगा ।
25 जुलाई से 19 अगस्त के बीच तक आठवें भाव में शुक्र होने से स्त्रियों की और से कष्ट एवं कार्यों में कुछ रुकावट आ सकती है अतः सावधानी बरतें ।अगस्त कुछ संघर्ष भाग दौड़ में व्यतीत होगा 
सितम्बर अक्टूबर आशा अनुरूप शुभ उन्नति कारक रहेंगे 
नवम्बर में अधिक खर्च,तनाव,उत्तेजना, विघ्न, भाई, मित्र जनों से मन मुटाव हो सकता है 
दिसबर उत्तरार्ध आशा अनुकूल धनदायक पिछले बिगड़े कार्य सुधरेंगे । 
उपाय - गौ सेवा , श्री सूक्त के हवन एवं वैभव लक्ष्मी के व्रत करें । हो सके तो दीपावली पर ब्राह्मणों द्वारा 108 श्री सूक्त पाठ करायें।
शुभ कामना
कर्क राशि(Cancer)गोचर फल 2015 (50%शुभ)
कर्क राशि पर गुरु का संचार उच्च स्थिति 13 जुलाई तक होगा ।मई माह धन धान्य समृद्धि कारक होगा ।जून पूर्वार्ध में पारिवारिक विवाद तनाव बनेगा किन्तु उत्तरार्ध जून शुभ फल दायक रहेगा ।14 जुलाई से गुरु सिंह राशि में आने से शारीरिक मानसिक आर्थिक घरेलू परेशानी बढ़ेगी ।अगस्त शुरुआत आलस्य, क्रोध ,स्वास्थ्य की और से सचेत रहें ।
अगस्त उत्तरार्ध अच्छे समाचार प्राप्त होने से घर में ख़ुशी का वातावरण बनेगा ।किसी विशेष कार्य में खर्च अधिक होगा ।
सितम्बर अक्टूबर नवम्बर दिसम्बर में मिश्रित फल होंगें ।
उपाय - श्री दुर्गा उपासना से नकारात्मक प्रभावों में कमी आएगी ।राहु और शुक्र के भी उपाय करें ।
सिंह राशि (Leo) गोचर फल 2015 (40% शुभ )
सिंह राशि वालों पर शनि की ढैय्या साल भर चलेगी अतः अगस्त तक शत्रु बाधा, धन की फिजूल खर्ची एवं गंभीर तनाव रहेगा । 17 अगस्त से सूर्य गुरु का सिंह राशि में संचार होने से रुके कार्यों में सुधार होगा । धन का स्रोत खुलेगा ।
किन्तु पुनः अक्टूबर नवम्बर में स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहें । मित्रों के सहयोग से बिगड़े कार्य संवर सकेंगे ।नवम्बर मास अपेक्षाकृत शुभ कारक होगा परिवार में देर से रुका कोई मंगल कार्य संपन्न होगा ।दिसम्बर भी ठीक ठाक जायेगा अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें 
16 दिस. को सूर्य धनु राशि में प्रवेश करने से बुद्धि चेतन होगी काम बनेंगे । यश प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी ।
 
उपाय -शनि की ढैय्या का उचित उपाय करें ।शनि सामग्री दान करें ।
रविवार से नित्य सूर्यार्घ्य दें,घर में मीठा खाएं और खिलाएं ।
कन्या राशि (Virgo) गोचर फल 2015 (50%शुभ)
कन्या राशि के जातकों के लिए भी यह वर्ष शुरुआत में कष्ट कारक अपव्यय कारक व संघर्ष मय रहेगा ।
राहु का प्रभाव भी साल भर रहेगा कठिनाई से निर्वाह योग्य आय साधन बनेंगें ।अतः मई तक काम, धन ,स्वास्थ्य को लेकर तनाव ही रहेगा । अतः धैर्य का आश्रय लें 15 जून से कुछ बिगड़े कार्य बनेंगे, धनागमन होना शुरू होगा ।
जुलाई में किसी निकट के लोगों द्वारा धोखा मिलने का योग है अतः सावधानी बरतें । अगस्त में राशि पति बुध बारहवें भाव में आने से यात्राओं पर खर्च होगा ।
किसी निकट बंधु से तकरार या मनमुटाव हो सकता है 
सितम्बर अक्टूबर में अच्छे फलों की प्राप्ति होगी नौकरी व्यवसाय में उन्नति लाभ होंगे, ग्यारहवें भाव में मंगल शुक्र होने से सुविधाओं पर खर्च होगा । किसी उच्च व्यक्ति से मैत्री होगी ।सरकारी कार्यों को पूर्ण करने का उचित अवसर है ।
नवम्बर दिसम्बर में राशि पर मंगल राहु का संचार है अतः पूर्ण सावधानी से कार्य करें ये मास अपेक्षा कृत कम फल दायक होंगे किन्तु धैर्य संयम एवं परामर्श लेकर कार्य करें ।निर्वाह योग्य धनागमन होता रहेगा ।
उपाय - देवी उपासना करें या छोटी कन्याओं को उपहार देकर श्रद्धा से चरण स्पर्श किया करें । 
दुर्गा मंदिर में नारियल पेड़े चढ़ाएं । 
बुध वार को सात अनाज का दान करें ।
सत्या सन्तु मनोरथाः ।
तुला राशि(Libra)गोचर फल 2015 (60%शुभ)
 
तुला राशि के जातकों को साल का शुरूआती समय कुछ व्यवधानों के बाद रोजगार में तरक्की धन धान्य समृद्धि भवन वाहन के लाभ प्राप्ति होगी ।अगस्त में राशि स्वामी शुक्र कर्क और सिंह राशि में संचरित होने से व्यवसाय में अस्थिरता ता हानिकारक योग बन रहा है अतः सावधानी एवं उपयुक्त उपाय का आश्रय लेना चाहिए ।
इसी प्रकार 25जुलाई से 5 सितम्बर तक शुक्र वक्री होंगे जिससे पुनः संघर्ष के बाद लाभ के योग हैं । अक्टूबर नवम्बर में शुक्र सिंह राशि में होने से दौड़ धूप के बाद आय लाभ होगा । तुला राशि पर शनि साढ़े साती का भी प्रभाव है अतः जिनकी कुंडली में शनि मित्र या शुभ है उन्हें अच्छे परिणाम व जिनकी कुंडली में शनि शत्रु या अशुभ है उन्हें कठिनाइयों से लाभ की प्राप्ति होगी ।
उपाय - शनिवार को शनि चालीसा पढ़ें , शनि बीज मन्त्र का पुरश्चरण करायें या शनि तीर्थ की यात्रा करें । 
तथा श्री सूक्त पाठ करें । स्त्रियों का आदर करें ।आचरण अच्छा रखें । 
शुभम् भवतु कल्याणम् ......।
वृश्चिक राशि (scorpio)गोचर फल 2015 (30%शुभ )
 
वृश्चिक राशि पर शनि की साढ़े साती वर्ष भर रहेगी । संघर्षपूर्ण वर्ष रहेगा राशि स्वामी मंगल उच्च राशिगत होने तथा गुरु की दृष्टि होने से दुर्घटनाओं से बचाव होगा फिर भी सावधानी रखें शनि साढ़े साती एवं शनि की दृष्टि होने से कई बार काफी कष्टकारक स्थिति से गुजरना पड़ सकता है । लगभग अक्टूबर तक प्रस्थितियां विपरीत रहेंगी ।तदुपरांत मंगल सिंह राशि में आने से लग्न पर दृष्टि होगी जिससे परस्थितियों में सुधार होगा ।धन एवं स्वास्थ्य संबंधी लाभ होगा । उच्च प्रतिष्टित लीगों से संपर्क होगा आत्मिक विश्वास की वृद्धि होगी मानसिक तनाव भी होगा किन्तु मान सम्मान भी बढ़ेगा । वाहन व मशीनरी से सावधानी रखें । अपने स्वभाव पर भी पूर्ण नियंत्रण पाने का प्रयास करें । क्रोध आवेश में कोई निर्णय न लें । विवादों से हरसंभव दूर रहें । कुल मिलाकर वृश्चिक राशि वालों को ये वर्ष 100%दौड़ धूप ,संघर्ष के बाद 30% लाभ मिलेगा यानि गुजारा भत्ता मिलता रहेगा ।
अतः ये वर्ष भगवान श्री हनुमान जी महाराज की आराधना व संयम के साथ गुजारें । 
आने वाला समय सुख मय बनेगा .।
उपाय -अपने घर में शुभ मुहूर्त में सुन्दर काण्ड के पाठ ,अखण्ड रामायण पाठ कराएं ।
संभव हो तो शनिवार को तुला दान कराएं ।शनिवार को वेसहरा अपाहिज लोगों को यथा सामर्थ्य अन्न वस्त्र फल आदि का दान करें ।
धनु राशि (Sagittarius)गोचर फल 2015 (40% शुभ)
 
धनु राशि वालों के लिए भी शुरू में बहुत बेहतर नहीं है । कारण कि साल भर शनि ढैय्या और राशि स्वामी गुरु अष्टमस्थ होना ,साथ मंगल बुध शुक्र की दृष्टियाँ हैं अतः जुलाई के बाद से कुछ लाभ मिलना शुरू होगा । गुरु की दृष्टि होने से धार्मिक आयोजनों में सम्मलित होना व अपने कार्य क्षेत्र से लाभ मिलना प्रारंभ होगा ।अगस्त सितम्बर अक्टूबर नवम्बर के महीने लगभग अच्छे धन मान प्रतिष्ठा से गुजरेंगे बीच में कुछ तनाव भी रहेगा । अतः इन महीनों में पूरी शाक्ति का सदुपयोग करें ।अच्छा रहेगा ।दिसम्बर में थोड़ी गड़बड़ी के योग हैं क्योंकि शनि की ढैय्या भी तो चल रही है अतः साथ ही शनि महाराज को भी प्रसन्न करें ।
उपाय -नारायण कवच या विष्णु सहस्र नाम या गोपाल सहस्र नाम का पाठ करे ।
वृहस्पति वार का व्रत करें कदली (केला )वृक्ष पूजन करें ।
अधिक जानकारी हेतु जन्म कुंडली दिखाएँ ।
आचार्य भगवती कृष्ण सेमवाल 
मकर राशि (Capricorn)गोचर फल 2015( 75%शुभ)
 
मकर राशि पर गुरु की और शनि संयुक्त दृष्टियां हैं तथा मंगल बुध शुक्र का संचार भी है अतः वर्ष के प्राम्भ में कठिनाइयों से धनागम होगा । स्वास्थ्य की प्रतिकूलता रहेगी धर्म कार्यों में खर्च होगा ।जून में पारिवारिक तनाव एवं किसी उच्चाधिकारी से विवाद विरोध हो सकता माता बगलामुखी जी के मन्त्र का सहारा लें । जुलाई शुरुआत में रुके कार्य संपन्न होंगे मंगल की उच्च दृष्टि होने से मान सम्मान पदोन्नति धन लाभ आदि के योग हैं ।
अगस्त में भी मकर राशि वालों के लिए शुभ वातावरण रहेगा
सुख साधनों की वृद्धि होगी घर में कोई अच्छा कार्य संपन्न होने से ख़ुशी मिलेगी ।
जुलाई अंत में कुछ तनाव एवं उलझन उत्पन्न हो सकती है ।सितम्बर शुभकारक होगा किसी मित्र द्वारा सहयोग प्राप्त होगा कोई बड़ा रुक कार्य सम्पन्न होगा ।धन समृद्धि प्राप्त होगी ।
अक्टूबर भी राशि स्वामी शनि की दृष्टि के कारण अनुकूल रहेगा । कुछ संतान संबधी तनाव हो सकता है । अतः सावधानी रखें भूमि संबंधी यदि कोई समस्या हो किसी मित्र के परिचय से समस्या ठीक हो सकती है ।
नवम्बर में भी कुछ व्यर्थ खर्चों के कुछ उलझनों विघ्नों के बाद नए व्यापारिक योजनाएं प्रारम्भ के योग हैं । सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी ।दिसम्बर भी कार्य व्यवसाय हेतु उत्तम है पिछले कार्य सफल होंगें । दिसम्बर अंत में कुछ अड़चनें आएँगी अतः सावधानी बरतें उपाय करें 
उपाय - श्री दशरथ कृत शनि स्तोत्र के पाठ किया करें । निर्धन बेसहारा लोगों को अन्न वस्त्र दान दिया करें ।अपने कामगार मजदूरों को खुश रखें ।उनके बच्चों की शिक्षा में योगदान करें ।
मंगल कामना 
आचार्य भगवती कृष्ण सेमवाल
कुम्भ राशि (Aquarius)गोचर फल 2015 (60%शुभ)
 
कुम्भ राशि के जातकों को 1अगस्त के बाद विशेषकर शनि देव की कृपा दृष्टि प्राप्त होगी जो धन धान्य समृद्धि कारक होगी पिछले बिगड़े कार्यों का सुधर होगा होगा ।इससे पहले धीरे धीरे निर्वाह योग्य आय होती रहेगी ।
अगस्त में शनि की दशम स्थिति होने से रोजगार व्यापार में वृद्धि एवं विशेष उन्नति के अवसर मिलेंगे ।मकान वाहन के लाभकारी योग हैं ।
सितम्बर भी रोजगार व्यवसाय हेतु उन्नति कारक होगा ।मंगल कार्य के योग हैं । विशिष्ट परिचितों से अनसुलझे कार्य सुलझेंगे । पारिवारिक व्यवस्था के प्रति सजग रहें ।विशेष कर बच्चों की और से लापरवाही न रखें । बच्चे बिगड़ रहे हों तो गुरु और सूर्य के उपाय करें ।
अक्टूबर में आपको मिले जुले प्रभाव महसूस होंगे कुछ तनाव के बाद धन लाभ के अवसर मिलेंगे। निसंकोच मित्रों का सहयोग सहयोग लें ।
इस माह विदेश यात्रा के भी हो सकती है अथवा कोई कीमती नयी वस्तु क्रय करोगे ।नवम्बर शुरू में धन हानि या व्यर्थ विवाद हो सकता है। कार्यों में रुकावट होगी 18 नवम्बर से सितारा शुभ है फिर कार्यों में सुधार है ।अच्छे लोगों से मित्रता होगी अच्छे कार्यों में खर्च होगा ।दिसम्बर का महीना शनि सूर्य के दशमस्थ योग से 20 तारिक तक मानसिक परेशानी उलझनों से जूझना पड़ेगा खास व्यक्ति से विश्वाश घात हो सकता है , उसके बाद धीरे धीरे कार्य व्यवस्थित होगा । शनि सूर्य के उपाय करें 
उपाय -रविवार को गुड़ कनक (गेंहूँ) मिठाई लाल वस्त्र धर्म स्थान में दान करें ।
शनिवार को 11 पीपल वृक्ष लगाएं या अपाहिज बेसहारा लोगों की को अन्न वस्त्र आदि दें ।
विशेष जानकारी हेतु अपनी जन्म कुंडली दिखाएँ 
time लेकर मिलें contact 9464612003
अनंत शुभ कामनाएं -
आचार्य भगवती कृष्ण सेमवाल
मीन राशि (Pisces)गोचर फल 2015 (75%शुभ)
 
मीन राशि पर पूरे साल केतु का संचार रहेगा तथा राशि स्वामी गुरु की दृष्टि भी रहेगी अतः मीन राशि वाले जातकों शुरुआत में अच्छे संबंधों से लाभ होगा शुभ कार्य संपन्न होंगे ।योजनाओं में कुछ सफलता मिलेगी । केतु के कारण स्वास्थ्य विकार हो सकता है ।पारिवारिक क्लेश बन सकता है ।जुलाई में अचानक लाभ होगा नौकरी व्यवसाय में उन्नति मिलेगी ।।
अगस्त माह केतु संचार होने से कार्यों में विघ्न व फिजूल खर्ची होगी । बंधुओं से विवाद ।
सितम्बर में भी मीन राशि वालों को सजगता से कार्य लेना पड़ेगा पांचवां मंगल बुद्ध की नीच दृष्टि व केतु संचार आदि कारणों से मानसिक तनाव घर व व्यापार में व्यवधान सामंजस्य की कमी फिर भी गुजारे योग्य आय शाधन रहेंगे ।
अक्टूबर में सूर्य बुध्द का योग मिश्रित फल देंगे धनलाभ के साथ खर्च भी खूब होगा ।16 अक्टूबर के बाद कार्यों की सिद्धि होगी । सुविधाओं पर खर्च होगा ।
नवम्बर में कोई मंगल कार्य संपन्न होगा । बस आलस्य से बचें ।दिसम्बर में केतु संचार के साथ मंगल की सातवीं दृष्टि होने से व्यर्थ की भागदौड़ रहेगी । बंधू मित्रों से मन मुटाव हो सकता है वाणी पर नियंत्रण रखें । 16 दिसम्बर से धन लाभ व उन्नति के अवसर प्राप्त होंगे ।यात्रा के अवसर मिलेंगे ।
उपाय केतु माँ उपाय करें ।वृहस्पति का उपाय करें या संपर्क करें 9464612003 
।।ॐ।।
आचार्य भगवती कृष्ण सेमवाल